रूह का रुख़

आज कल दिल सिर्फ़ दुखता है आपकी याद में
आप ना होकर भी. नज़र में सिर्फ़ आप बस्ते हो
हर साँस हमें एहसास कराती हैं की ,
आप हो हमारी जान, आप मेरे जुनून
और आप के लिए हम क़ुर्बान
आप ही मेरी हंसी, आप ही मेरा दुःख
और
आप ही मेरा सुकून

~ ऐश्वर्या सिंघ

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s